Ask Free Unlimited Question
Join the 2 Crores+ Student community now!
Question :

एक सूत्रकृमि मेलॉयडोगाइन इंकॉग्नीटा, तंबाकू के पादप की मूलों को संक्रमित करता है और उपज में बृहत् कमी का कारण बनता है। इस संक्रमण को रोकने के लिए एक नवीन रणनीति अपनाई गई जो किस प्रक्रिया पर आधारित थी?

Updated On: 17-04-2022

This browser does not support the video element.

Video Solution: एक सूत्रकृमि मेलॉयडोगाइन इंकॉग्नीटा, तंबाकू के पादप की मूलों को संक्रमित करता है और उपज में बृहत् कमी का कारण बनता है। इस संक्रमण को रोकने के लिए एक नवीन रणनीति अपनाई गई जो किस प्रक्रिया पर आधारित थी?

लिखित उत्तर

Open Answer in App

A

RNAi

B

mRNAनिष्क्रियता

C

प्रतिअर्थ RNA प्रौद्योगिकी

D

ये सभी

Answer

D

Solution

अनेक सूत्रकृमि, मनुष्यों सहित विभिन्न किस्म के पादपों और जंतुओं को परजीवी बनाते हैं। एक सूत्रकृमि मेलॉयडोगाइन इंकॉग्नीटा, तंबाकू पादप के मूलों को संक्रमित करता है और उपज में बृहत् कमी का कारण बनता है। इस संक्रमण को रोकने के लिए एक नवीन रणनीति अपनाई गई जो कि RNA अंतरक्षेप (RNAi) के प्रक्रम पर आधारित थी। RNA कोशिकीय रक्षा की एक विधि के रूप में सभी यूकैरियोटिक जीवों में होती है। इस तकनीक में एक पूरक dsRNA अणु जो mRNA से बंधता है और उसके स्थानांनतरण को रोकता (निष्क्रियता) है, अर्थात इस कारण एक विशेष mRNA की निष्क्रियता को सम्मिलित किया जाता है। इस पूरक RNA का स्रोत, RNA जीनोम या चल आनुवंशिक तत्वों (ट्रांसपोज़न) वाले विषाणु द्वारा संक्रमण से हो सकता है, जो कि एक RNA मध्यक के माध्यम से प्रतिकृति करते हैं। एग्रोबैक्टीरियम संवाहक का उपयोग करते हुए, सूत्रकृमि-विशिष्ट जीन को परपोषी पादपों में प्रवेश कराया जा चुका है। DNA की प्रवेश इस प्रकार करवाया जाता है की परपोषी कोशिकाओं में अर्थ और प्रतिअर्थ दोनों RNA का निर्माण करता है। ये दोनो RNA एक दूसरे के पूरक होते हैं, जो द्वि-रज्जुकीय (dSRNA) का निर्माण करते हैं, जिससे RNAi प्रारम्भ होता है और इस कारण से, सूत्रकृमि के विशिष्ट mRNA को निष्क्रिय हो जाते हैं।

Answer

Step by step video & text solution for " एक सूत्रकृमि मेलॉयडोगाइन इंकॉग्नीटा, तंबाकू के पादप की मूलों को संक्रमित करता है और उपज में बृहत् कमी का कारण बनता है। इस संक्रमण को रोकने के लिए एक नवीन रणनीति अपनाई गई जो किस प्रक्रिया पर आधारित थी? " by Biology experts to help you in doubts & scoring excellent marks in Class 12 exams.

Question Details till 27/05/2022

Question एक सूत्रकृमि मेलॉयडोगाइन इंकॉग्नीटा, तंबाकू के पादप की मूलों को संक्रमित करता है और उपज में बृहत् कमी का कारण बनता है। इस संक्रमण को रोकने के लिए एक नवीन रणनीति अपनाई गई जो किस प्रक्रिया पर आधारित थी?
Chapter Name NEET TEST 10
Subject Biology (more Questions)
Class 12th
Type of Answer video & text
Question Language
In Video - Hindi
In Text - Hindi
Students Watched 9.0 K+
Students Liked 4.1 K+
Question Video Duration 4m24s

Transcript

हेलो प्रश्न है यहां पर एक सूत्र क्रीमी एक सूत्र क्रीमी है मैं लाइट होगाई इनकॉग्निता यह क्या तंबाकू के पादप के मूल्यों को संक्रमित करता है और इसके कारण उपज में बहुत अधिक कमी हो जाती है तो इसके संक्रमण को रोकने के लिए एक नई रणनीति अपनाई गई तो यह नई रणनीति किस प्रक्रिया पर आधारित है यह बताना तो यह जो रणनीति है इस रणनीति का नाम है जाए प्रौद्योगिकी द्वारा आरएनए इंटरफ्रेंस के द्वारा जो यह सूत्र क्रीमी होती है इसके संक्रमण को तंबाकू के पादप के मूल्यों में रोका जाता है कैसे रोका जाता है तो यह देखिए क्या होता है जो तंबा

कोशिकाएं होती है मान लेते तंबाकू की कोशिकाएं हैं इस पर क्या किया जाता है यह जो तकलीफ होती है यानी कि निमेटोड इसके डीएनए को इसके अंदर इस प्रकार से डाला जाता है ना इसके डीएनए को इसके अंदर इस प्रकार से डाला जाता है कि यह डीएनए क्या करता है ए आर एन ए तैयार करते कारे ने तैयार होगा और एक प्रति आरएनएत तैयार होता है और यह दोनों क्या होता है या दोनों आर्य ने मिलकर के क्या होता है दोहरे धागे वाला आर्य ने तैयार कर लेता है यह काम का

जब वास्तविकता में जब वास्तविकता में यह सूत्र कि रमेश पर हमला करेगा और अपने डीएनए को यहां मुक्त करेगा तो यह भी तो वही करता है यह डीएनए क्या करेगा ट्रांसक्रिप्शन के द्वारा एमआरएनए को बनाता है क्या बनाता है यह एमआरएनए को बनाता है और यह एमआरएनए एक प्रोटीन बनाता है और यही प्रोटीन क्या करता है इस तंबाकू को पत्ते को नुकसान पहुंचाता है इसके जड़ की कोशिश को नुकसान पहुंचाता है यह डबल स्टैंडर्ड आर्मी बना है तोहरे धागे वाला आर्य ने बनाया है यह क्या करेगा तो यह जाकर के सीधा इसके एमआरएनए को इसके एमआरएनए पर अटैक कर देगा आक्रमण कर देगा सूत्र क्रीमी के डीएनए का निर्माण में बना था या एमआरएनए क्या करता प्रोटीन बना था और यह प्रोटीन फिर क्या करता है यहां पर यह

संक्रमण के पहले ही यह जो दौरे धागे का जो हारने बना हुआ है यह वहां पर जाएगा और इस एमआरएनए को क्या करता है या नष्ट कर देगा हमारे नेता जैसे मारने खत्म हुआ यह प्रोटीन का निर्माण रुक जाता है और उसके बाद यह संक्रमण भी रुक जाता है इस तरह से यह जो दोहरी धागे वाला आर्य ने जो बना है यह तंबाकू में संक्रमण को रोकता है उत्तर देखते हैं क्या सही उत्तर हो सकता है पहला का तरीका लाता है बिल्कुल सही है दूसरा कमला किया था तो यह मैंने बनाया था कि हमारे ने कोई उन्होंने क्या किया यह दूरी धागे वाला रमेश को नष्ट कर दिया

सही है तीसरा कथा प्रति और आर्य प्रौद्योगिकी सही में यह जो बना हुआ है यह दो प्रकार काल में बना हुआ है यही चलाता प्रति और आर्य ने तो यही है इसका मतलब यह सभी के सभी उत्तर क्या है सही है उम्मीद करता हूं आपको समझ में आ गया होगा

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this chapter - NTA MOCK TESTS Class 12 NEET TEST 10

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this Book - NTA MOCK TESTS Class 12 BIOLOGY
दो बिंदुओं P और Q के स्थिति सदिश क्रमशः `2bara+barb` और `bara-2barb` है। एक बिंदु R का स्थिति सदिश ज्ञात कीजिए जो रेखा खण्ड PQ को `1:2` के अनुपात में अंतः तथा बाहृातः विभाजित करता है।
एक फलन g जो प्रत्येक वास्तविक संख्या `x gt 0` के लिए परिभाषित है तथा `g(1)=1, g'(x^(2))=x^(3)` को सभी `x gt 0` के लिए सन्तुष्ट करता है, तो g (4) का मान है
वह समतल, जो बिन्दुओ `(-3,-3,4)` तथा (3,7,6) को मिलाने वाले रेखाखण्ड का लंबसमद्विभाजक करता है, निम्न में से किस एक बिंदु से होकर जाता है?
एक द्विघात बहुपद f(x), जो `f(0) = 0, f(1) = 1, f'(x) gt 0`, को सभी `x in (0,1)` के लिए संतुष्ट करता है, है
एक त्रिभुज का एक शीर्ष (1,2) पर है तथा इससे होकर जाने वाली दो भुजाओं के मध्य - बिन्दु `(-1,1)` और (2,3) हैं , तो इस त्रिभुज का केन्द्रक है
उस बिन्दु के निर्देशांक ज्ञात कीजिए जो बिन्दुओं (3, 7) और `(-1,-5)` को मिलाने वाली रेखा को `2:3` के अनुपात में अन्तः विभाजित करता है।
Home
Online Class
Doubt?
Download App
Ask Doubt