Ask Free Unlimited Question
Join the 2 Crores+ Student community now!

जब एक रस्सी में उत्पन्न तरंग मुक्त सिरे से परावर्तित होती है, तो परिणामी तरंग इस प्रकार बनती है कि रस्सी के मुक्त सिरे पर प्रवणता शून्य है। शून्य परिणामी प्रवणता प्रदर्शित करती है कि रस्सी के लम्बवत् बल का कोई घटक नही है।

Updated On: 17-04-2022

This browser does not support the video element.


लिखित उत्तर

Open Answer in App

A

कथन-1 सत्य है। कथन-2 सत्य है एवं कथन-2 कथन-1 की सही व्याख्या करता है।

B

कथन-1 सत्य है कथन-2 सत्य है परन्तु कथन 2 कथन - 1 की सही व्याख्या नही करता है।

C

कथन-1 सत्य है, कथन-2 असत्य है।

D

कथन-1 असत्य है। कथन-2 सत्य है।

Answer

A

Answer

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

देखो बेटा हमें यहां एक कथन और कारण का क्वेश्चन दे रखा है पहला खत्म किया था कि जब एक रस्सी में उत्पन्न तरंग मुक्त सिरे से परावर्तित होती है और मुक्त सिरे पर इस प्रकार परावर्तित होती है कि मुक्त सिरे पर जो परिणाम में तरंग है उसकी तीव्रता उसकी प्रवणता सुनने हैं और सुनने पटना में प्रवणता प्रदर्शित करती है कि रस्सी के लंबवत बल का कोई घटक नहीं है अब यहां पर रस्सी के लंबवत क्यों दिया गया है तो उसको समझिए सबसे पहले तो जब तरंग गति करती है ठीक है मान लेते रंग एक्स एक्स की दिशा की तरफ गति कर रही है तो जो माध्यम के कारण होंगे वह क्या करेंगे इस गिस तरंग की दिशा के लंबवत कंपन करेंगे इस तरफ वाई एक्स के तरफ तो भाई आपकी तरफ लपका लंबवत कोई घटक नहीं दे रखा है यह दूसरे कथन के अंदर दे रखा है अब पहले कथन के अंदर हमें क्या दे रखा है की प्रवणता सुननी है मुक्त सिरप

ओके तेरे पर प्रवणता क्या है सुनने हैं यानी डीवाई बटे डी एक्स एक्स का मान कितना दे रखा है जीरो दे रखा अब जीरो दे रखा है तो उसे क्या पता चला हम जानते हैं कि कण का व्यग बीपी सदन का वेग भी पी स 10 बराबर क्या होता है - डीवाई बटे डी एक्स * 20 आदेश तरंग का वेग अब देखो वीर जी बाय बाय डीएक्स मुख्य मुक्त सिरे पर में कितना दे रखा है सुनने दे रखा है तू भी प्रदेश बराबर क्या हो जाएगा अभी 326 क्या हो गया सुनने हो गया बीती सदी सुन्न होने का मतलब क्या हो गया कि वह करण कहां पर है आयाम के ऊपर जब कणायाम के ऊपर होता है तभी उसका डी वाय वाय डी एफ क्या होता है जीरो होता है जी बाय बाय डीएक्स जीरो हो गया यानी कण का व्यग क्या हो गया सुनने हो गया और वह अधिकतम आयाम पर है तो अधिकतम आयाम पर तभी हो सकता है जब रस्सी के

लंबवत कोई बल का गठन काम नहीं करें या नहीं करण के ऊपर करण के ऊपर जो रस्सी की तरंग की दिशा के लंबो संपन्न कर रहे हैं उनके ऊपर कोई बल का घटक काम नहीं करें तभी वह अधिकतम पर हो तो पहला कथन सत्य है दूसरा कथन सत्य है तो यहां पर एक सही हो जाएगा कि कल एक सत्य कथन दो सकते हैं हिंदुओं का कत्ल दो कटने की सही व्याख्या कर रहा है तो इस प्रकार से विकल्प नंबर 1 हमारा सही हो जाएगा थैंक्स

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this chapter - BANSAL HINDI Class 12 MECHANICAL WAVES

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this Book - BANSAL HINDI Class 12 PHYSICS
एक बिन्दु पर क्रियाशील दो बल P और Q का अधिकतम परिणामी बल ........ होता है।
एक बहुविकल्पीय प्रश्न का उत्तर देने में विद्यार्थी या तो प्रश्न का उत्तर जानता है या जानता लगाता है | मान ले कि उसके उत्तर जान ने कि प्रायिकता `3/5` है तथा अनुमान लगाने कि प्रायिकता `2/5` है | मान ले कि छात्र के प्रश्न का उत्तर अनुमान लगाने पर सही उत्तर देने कि प्रायिकता `1/3` है , तो इसकी क्या प्रायिकता है कि कोई छात्र प्रश्न का उत्तर जानता है यदि यह ज्ञात है कि उसने सही उत्तर दिया है ?
यदि परिमेय संख्याओं के समुच्चय Q पर संक्रिया `(**)` इस प्रकार परिभाषित है कि `a**b = 2a+3b` . दिखाइए कि `(**)` समुच्चय Q पर एक द्विआधारी संक्रिया है।
यदि संक्रिया `**` वास्तविक संख्याओं के समुच्चय R पर द्विआधारी संक्रिया है तथा इस प्रकार परिभाषित है कि <br> ` a**b = sqrt(a^4 + b^4)` , जहाँ `a, b in R ` से दिखाइए कि '` ** `' क्रम-विनिमेय नियम का पालन करती है।
माना की R कोई वास्तविक सँख्या का समुच्चय है। एक सक्रिया R पर इस प्रकार परिभाषित है कि `a "*" b = a + b + 2ab` तो `2 "*"3` का मान ज्ञात किया।
एक वृत्त X-अक्ष पर एक जीवा काटता है जिसकी लम्बाई 4a है तथा यह वृत्त Y-अक्ष के एक बिन्दु से होकर जाता है जिसकी मूलबिंदु से दुरी 2b है , तो वृत्त के केन्द्र का बिन्दुपथ (locus) है
एक समतल निर्देशांकों अक्षों को A,B,C पर इस प्रकार मिलता है कि त्रिभुज ABC का केंद्रक (1,2,3) है तो समतल का समीकरण होगा
एक गोले कि त्रिज्या 7 सेमी. मापी जाती है जिसमे 0.02 सेमी. कि त्रुटि है। इस त्रुटि के कारण इसके आयतन कि गणना में सनिकटन त्रुटि ज्ञात कीजिए।
एक कम्पनी दो प्रकार के टेलीफोन A व B बनाती है | A प्रकार के टेलीफ़ोन बनाने में 2 घंटे एवं B प्रकार के टेलीफ़ोन बनाने में 4 घंटे लगते हैं |कम्पनी के पास 800 घंटे कार्य उपलब्ध है| 300 टेलीफोनों को एक दिन में पैक किया जाता है | A प्रकार के टेलीफोन का विक्रय मूल्य ₹300 तथा B प्रकार के टेलीफ़ोन का विक्रय मूल्य ₹400 है | अधिकतम लाभ के लिए कम्पनी A प्रकार के x तथा B प्रकार के y टेलीफोन का निर्माण करती है तो रेखीय प्रतिबंध के (`x ge 0, y ge 0` अलावा ) है : <br> उपयुक्त प्रश्न का अनुकूलतम है निम्नलिखित शीर्ष पर है|
द्विक - प्रिज्म के एक प्रयोग में 5000Å` तरंग लम्बाई के प्रकाश के कला - संबद्ध स्त्रोतों से 1.0 मीटर दुरी पर रखे पर्दे पर 5 मिमी चौड़ाई फ्रिंज प्राप्त होती है। दोनों कला - संबद्ध स्त्रोतों कि बीच दुरी है -
किसी कारखाने में बने एक बल्ब कि 150 दिनों के उपयोग के बाद फ्यूज होने कि प्रायिकता 0 .05 है प्रायिकता ज्ञात कीजिए कि इस प्रकार के 5 बल्बों में से - एक से अधिक
माना एक ऊर्ध्वाधर मीनार AB ऐसी है कि उसका सिरा A भूमि पर है। माना AB का मध्य-बिन्दु C है और भूमि पर स्थित बिन्दु P ऐसा है कि `AP=2AB` यदि `angleBPC=beta` है, तो `tanbeta` बराबर है
दो दल एक निगम के निदेशक मंडल में स्थान पाने की प्रतिस्पर्धा में है | पहले तथा दूसरे दल के जितने की प्रायिकताएँ क्रमशः 0.6 तथा 0.4 है | इसके अतिरिक्त यदि पहला दल जीतता है तो एक नए उत्पाद के प्रारंभ होने की प्रायिकता 0.7 है और यदि दूसरा दल जीतता है तो इस बात की संगत प्रायिकता 0.3 है इसकी प्रायिकता ज्ञात कीजिए कि न्य उत्पादन दूसरे दल द्वारा प्रारम्भ किया गया था
यदि एक द्वितीय क्रम के सारणिक का प्रत्येक अवयव शून्य या एक हो तो सारणिक का मान धनात्मक होने की क्या प्रायिकता है ? ( यह मानते हुए कि सरणिक के प्रत्येक अवयव को स्वतंत्र रूप से चुना जा सकता है तथा प्रत्येक के चुने जाने कि प्रायिकता `1/2 ` है । )
एक कम्पनी दो प्रकार के टेलीफोन A व B बनाती है | A प्रकार के टेलीफ़ोन बनाने में 2 घंटे एवं B प्रकार के टेलीफ़ोन बनाने में 4 घंटे लगते हैं |कम्पनी के पास 800 घंटे कार्य उपलब्ध है| 300 टेलीफोनों को एक दिन में पैक किया जाता है | A प्रकार के टेलीफोन का विक्रय मूल्य ₹300 तथा B प्रकार के टेलीफ़ोन का विक्रय मूल्य ₹400 है | अधिकतम लाभ के लिए कम्पनी A प्रकार के x तथा B प्रकार के y टेलीफोन का निर्माण करती है तो रेखीय प्रतिबंध के (`x ge 0, y ge 0` अलावा ) है : <br> उपयुक्त प्रश्न के रेखीय कार्य योजना का सम्भाव्य क्षेत्र के निम्न प्रकार का है:
Home
Online Class
Doubt?
Download App
Ask Doubt