Ask Free Unlimited Question
Join the 2 Crores+ Student community now!

यदि एक अतिपरवलय के संयुग्मी अक्ष (conjugate axis) की लम्बाई 5 है तथा इसकी नाभियो के बीच की दुरी 13 है, तो इस अतिपरवलय की उत्केंद्रता है

Updated On: 17-04-2022

This browser does not support the video element.


लिखित उत्तर

Open Answer in App

A

B

C

2

D

Answer

B

Answer

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

नमस्कार दोस्तों आज का मेरा सवाल है यदि एक अति परवलय के सहयोग में अक्स की लंबाई 5 है तथा इसकी नदियों के बीच की दूरी 13 है तो इस अति परवलय के उप केंद्र ता है तो आइए सवाल करते तो यहां पर मैं क्या बोला कि एक अति परवलय की सही में एक्स की लंबाई तो कितनी है 5 तथा इसकी नदियों के बीच की दूरी कितनी है तेरा तो मैं इसकी उपकेंद्र था पूछा है तो सबसे पहले मैं अति परवलय का समीकरण मान लेता हूं मान लो अति परवलय का समीकरण हमारे पास एक्स स्क्वायर बटा ए स्क्वायर माइनस बी स्क्वायर बटा बी स्क्वायर बराबर एक जहां पर जो एक्स एक्स है वह तो है हमारे पास अनुप्रस्थ और गायक सेमारी पास कैसे युग में आग और सही में उसकी लंबाई हमारे पास क्या होती है संयुग्मी अक्ष की लंबाई होती है हमारे पास तू भी संयुग्मी अक्स की जो लंबाई होती है वह हमारे पास कितनी होती है तू भी और यहां पर मैं सहयोग में उसकी लंबाई कितनी देर की है 52 टू बी का मान कितना हो जाएगा पास तो भी काम आना और पास कितना आ जाएगा 5 बटा दो अब दूसरा में क्या तेरे को

तथा इसकी नबियों के बीच की दूरी तो यह जो अति परवलय होता है मेरे पास इसकी नाभिया होती हमारे पास प्लस माइनस 10 प्लस माइनस 10 एक्स एक्स पर उपस्थित होती है एक होती हमारे पास प्लस का और दूसरी होती है मेरे पास - का और चुनौतियों के बीच की दूरी होती है ना पियो के बीच की दूरी होती हमारे पास दो a2aa अब यहां पर नदियों के बीच की दूरियां में कितनी देर का है तेरा तू यहां से हमारे पास 20 का मान कितना आ जाएगा तेरा और हमें क्या तेरे काम है क्या पूछा कि इस अति परवल की उसके अंदर था क्या होगी तुझे उसके अंदर तक का फार्मूला होता है अति परवलय की छाती पर बोले कि उसके नेता का फार्मूला होता है हमारे पास ही बराबर रूट 1 प्लस बी स्क्वायर बटा ए स्क्वायर हमारे पास क्या होती अति परवलय के उप केंद्र तक आप लोग यहां से हमारे पास भी का माना जाएगा बी स्क्वायर का मान कितना आ जाएगा 5 बटा 2 का स्क्वायर इसको मैं क्या लिखता हूं जिसको मैं लिखता हूं बराबर रूट 1 प्लस बी बटाए का होल स्क्वायर बी बटाए का हॉल

हमें क्या करूंगा यहां पर अगर मैं दोनों तरफ भर करूं तू ही का स्क्वायर हो जाएगा बी का स्क्वायर हो जाएगा इस बार यहां पर करूंगा तो रूठ जाएगा तो यह जाएगा 1 प्लस बी बटाए का होल स्क्वायर बी का मान कितना जाएगा 5 बटा दो पिया जाएगा हमारे पास 5 बटा 2 बटा 1 का माना जाएगा हमारे पास यहां से 13 बटा दो ई ए का माना जाएगा हमारे पास 13 बटा 2 का होल स्क्वायर अब यहां पर एक बटा दो यहां पर भी नीचे दो यहां पर भी नीचे दो है कैंसिल हो जाएगा और ऊपर जाएगा तो यह मेरे पास कितना हो जाएगा 5 बटा 13 का होल स्क्वायर तो यहां से ईश्वर का माना जाएगा हमारे पास वनप्लस 5 का शिकार हो जाएगा 25e का स्पैरो जाएगा इस स्क्वायर बटा 13 का स्क्वायर हो जाएगा 169 यही डर जाएगा तो यहां से वापस क्या हो जाएगा स्क्वायर माइनस का 25 स्क्वायर बटा 116 9 बराबर 1 या अब यहां पर 116 नंबर पर क्या हो जाएगा लघुतम आ जाएगा और ईश्वर दोनों में क्या हो जाएगा वहीं स्टार जाएगा तो यह हो जाएगा हमारे पास नीचे तो आ जाएगा 169 ऊपर आ जाएगा हमारे पास वंशी

-25 जोकि हो जाएगा 144 और बराबर वापस कितना जाएगा एक तो यहां से ईश्वर का मान कितना हो जाएगा 160 9 बटा यह कीमत कितना हो जाएगा मेरे पास 144 आ जाएगा वापस 442 झांसी का माल हो जाएगा हमारे पास ही बराबर रूट 169 5844 इसको मैं लिख सकता हूं 13 बटा 12 बराबर कितना होता है 144 और 13 का वर्ग कितना होता है 160 आ जाएगा हमारे पास 13 बटा 12 तो यहां पर अति परवलय कि उसके नेता का मानव और पास कितना आ जाएगा 13 बटा 12 धन्यवाद

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this chapter - JEE Main & Advanced (Hindi Medium) Class 12 JEE MAIN 2019

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this Book - JEE Main & Advanced (Hindi Medium) Class 12 MATHS

JEE ADVANCED सॉल्वड पेपर 2019

JEE ADVANCED सोल्वड पेपर्स 2018

अतिपरवलय (Hyperbola)

अनिश्चित समाकलन

अनुक्रम एवं श्रेणियां

अवकल गुणांक

अवकल समीकरण

आव्यूह

उच्‍च्‍ष्‍ठि एवं निम्‍निष्ठ

ऊँचाई एवं दूरी

एकदिष्टता

क्रमचय एवं संचय

क्षेत्रफल

गणितीय आगमन का सिद्धांत

त्रिकोणमितीय अनुपात एवं सर्वसमिकाएँ

त्रिकोणमितीय समीकरण

त्रिभुजों के गुण

त्रिविमीय ज्यामिति

दीर्घवृत्त

द्विपद प्रमेय

निश्चित समाकलन

परवलय

प्रतिलोम वृत्तीय फलन

प्रायिकता

फलन

लघुगणक एवं उनके गुण

विविध प्रस्नावली

वृत्त

सतत्ता एवं अवकलनीयता

सदिश

समीकरण सिद्धान्त

सम्मिश्र संख्याएँ

सरल रेखा

सरल रेखायुग्म

सारणिक

साल्वड पेपर 2017

सीमा

सॉल्वड पेपर 2017 JEE MAIN संयुक्त प्रवेश परीक्षा

सॉल्वड पेपर्स 2018

स्पर्शी एवं अभिलम्ब

सॉल्वड पेपर्स 2021

MOCK TEST 2022

सॉल्वड पेपर (JEE MAIN 2021)

सॉल्वड पेपर्स 2020

एक अतिपरवलय बिन्दुओं (3,2) तथा (-17,12) से गुजरता है और उसका केंद्र मूलबिन्दु पर है तथा अनुप्रस्थ अक्ष x- अक्ष है। अतिपरवलय की अनुप्रस्थ अक्ष की लम्बाई है।
माना एक दीर्घवृत्त जिसका दीर्घ -अक्ष, X-अक्ष के अनुदिश है तथा केन्द्र मूलबिंदु पर है, के नाभिलम्ब की लम्बाई 8 है । यदि दीर्घवृत्त की नाभियो के बीच की दुरी, इसके लघु-अक्ष की लम्बाई के समान हो, तो निम्न में से कौन-सा बिन्दु इस पर स्थित है?
एक अतिपरवलय का केंद्र मूलबिंदु पर है तथा यह बिन्दु (4,2) से होकर जाता है और इसका अनुप्रस्थ (transverse) अक्ष X-अक्ष के अनुदिश है जिसकी लम्बाई 4 है तो इस अतिपरवलय की उत्केन्द्रता (eccentricity) है
यदि एक दीर्घवृत्त की दीर्घ अक्ष की लम्बाई, उसके लघु अक्ष की लम्बाई की तिगुनी है, तो उसकी उत्केन्द्रता होगी
यदि एक अतिपरवलय के शीर्ष `(-2,0)` तथा (2,0) पर है तथा इसकी एक नाभि `(-3,0)` पर है, तो निम्न में से कौन-सा बिन्दु इस अतिपरवलय पर स्थित नहीं है
यदि बिंदु (4,6) से होकर जाने वाले मानक अतिपरवलय की उत्केंद्रता 2 है, तो (4,6) पर अतिपरवलय पर खींची गई स्पर्श रेखा का समीकरण है
एक घन के विकर्ण की लम्बाई `12sqrt(3)` सेमी है। घन के कोर की लम्बाई .............होगी।
किसी आयतीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी :
एक वृत्त X-अक्ष पर एक जीवा काटता है जिसकी लम्बाई 4a है तथा यह वृत्त Y-अक्ष के एक बिन्दु से होकर जाता है जिसकी मूलबिंदु से दुरी 2b है , तो वृत्त के केन्द्र का बिन्दुपथ (locus) है
यदि किसी समकोणीय अतिपरवलय के नियताओं के बीच की दूरी 10 इकाई हो, तो उसके नाभियों के बीच की दूरी होगी
एक अतिपरवलय की नाभियाँ दीर्घवृत्त `(x^(2))/(25)+(y^(2))/(16)=1` की नाभियों के सम्पाती है। यदि अतिपरवलय की उत्केन्द्रता `sqrt(3)` हो तो उसका समीकरण ज्ञात कीजिए।
एक व्यक्ति के एक कदम आगे चलने की प्रायिकता 0.4 तथा एक कदम पीछे हटने की प्रायिकता 0.6 है। इस बात की क्या प्रायिकता है की ग्यारह कदमो के पशचात वह व्यक्ति शुरुआती बिन्दु से एक कदम दूर है?
यदि अतिपरवलय `16x^(2) -9y^(2) = 144` की नियता (directrix) `5x + 9 = 0` है, तो इसका संगत नाभिकेन्द्र है
यदि शब्द PROBABILITY के अक्षर एक पंक्ति में यदृच्छया लिखे जाते है तो दो के साथ आने की प्रायिकता है -
यदि एक दीर्घवृत्त जिसका केंद्र मूलबिंदु पर है, के दीर्घ कक्ष तथा लघु कक्ष कि लम्बाइयों का अंतर 10 है तथा एक नाभिकेन्द्र `(0, 5sqrt3)` पर है, तो इसके नाभिलम्ब की लम्बाई है
Home
Online Class
Doubt?
Download App
Ask Doubt