Ask Free Unlimited Question
Join the 2 Crores+ Student community now!

`S_(N)1` एवं `S_(N)2` क्रियाविधि को समझाइये।

Updated On: 17-04-2022

This browser does not support the video element.


Answer

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

हमारा पुलिस इस प्रकार से है कहता है कि sn1 sn2 क्रिया विधि को समझाइए हमें दोस्तों एवं sn2 अभिक्रिया होती है उनको समझाना है sn1 sn2 की अवधि किस प्रकार होती है तो हम दोस्तों अपने उत्तर के माध्यम से कोशिश करते हैं इन दोनों की क्रियाविधि को समझने की बात करते हैं hn1 दोस्तों इसमें दोस्तों कार्बो धनायन किया का मध्यवर्ती बनता है दोस्तों कार्बो धनायन दोस्तों अभिक्रिया का मध्यवर्ती बनता है अब क्या मध्यवर्ती दोस्तों होता है यहां पर दोस्तों यह अभिक्रिया दोस्तों 2 पद में पूर्ण होती है 2 पद में दोस्तों पूर्ण होती है ठीक है दोस्तों बात करें दोस्तों यह सब किया कि कियावत की दोस्तों

जैसे कोई एल्किल हैलाइड दोस्तों यहां पर हम तृतीया का 3 डिग्री दोस्तों एल्किल हैलाइड लेते हैं क्योंकि हमें यहां पर स्थाई करो अदनान बनाया ना होता है उसके बाद दोस्तों यहां पर हम अगर कोई कोई फेशियल डाल देते हैं यहां पर सबसे पहले एक्स माइनस बाहर निकलता है बनता है सी प्लस आर आर आर फिजीशियन - होता है वह इस प्रक्रिया करके बना देता है यहां पर बात करें तो सीसीएल आर आर आर दोस्तों किसी के घर में दूसरा बनाना है यहां पर एक्स = ब्रोमीन हो और हथियारों से हत्या करा दें यह बनता है यदि यहां पर हम सी एल माइनस ना ले कर के पैसे ले ले तो दोस्तों यहां पर यश - इस प्रक्रिया करेगा और इस साल की जगह व्यस्त लग जाएगा तो हमारे यहां पर तृतीयक अल्कोहल भी बन सकता है ठीक है तृतीय दोस्तों

तृतीयक अल्कोहल भी बन जाता है दोस्तों यह मारी जो क्रियाविधि हुई है 2 पदों से हुई है पहला पद यह हुआ और दूसरा पद यह होता है पहले मैं कार्बो धनायन बनता है यहां पर फिर दोस्तों ना भी किस नहीं किया करता है और उत्पाद बनाता है यह आर्यन मंकी की होती है बात करें sn2 की दोस्तों यहां पर यह दोस्तों यह एक पद में होती है ठीक है बात करें दोस्तों यहां पर हम जैसे आर एस 2X कोई दोस्तों यहां पर हम प्राथमिक अल्केने राय लेते हैं प्राथमिक एल्किल हैलाइड क्योंकि यहां पर दोस्तों हमारी दोस्तों यहां पर कोई मध्यवर्ती नहीं बनता है इस पर दोस्तों जब हम इस पर हम कोई किए हुए इस डालते हैं वह भी दोस्तों सांद्र तो क्या होता है यहां पर 10 - होता है वह दोस्तों इस कार में पीछे देख लिया करता है और इस एक्स माइनस को एक

ही पद में निकालता है बना देता है यहां पर rch2oh ठीक है अब इसकी बात करें किस प्रकार जाता है यहां पर सी एच एच आर यहां दोस्तों एक्स निकल रहा होता है इधर से ओ एच माइनस जो है यहां पर बकरिया कर रहा होता है इस प्राचीन प्राचीन सिद्ध होता है यह जो बंद होता है ब्रेक मतलब मतलब टूट रहा होता है मतलब फार्मिंग बन रहा होता है इसका मतलब दोस्तों यहां पर बनना है और बी का मतलब दोस्तों टूटना है मतलब यह बंद टूट रहा होता है और यह बन रहा होता है और यहां पर इस प्रकार से मारा जाता है ठीक है यह मारी sn2 की क्रियाविधि है जो कि एक पद में पूरी होती है ठीक है डायरेक्ट और यहां पर मारा मध्यवर्ती बनता है फिर दूसरे पर में नाभिक स्नेही किया करता है यहां सब कुछ एक पद में ही होता है सेंड टू मेक तो इस प्रकार हम sn1 sn2 की दोस्त क्रियाविधि को

समझा देते हैं आशा करता हूं आपको हमारी यह क्या भेजे समझ आई होगी ठीक है थैंक यू

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this chapter - SCIENCE PUBLICATION Class 12 हैलोजन व्युत्पन्न

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this Book - SCIENCE PUBLICATION Class 12 CHEMISTRY
`S_(N)1` एवं `S_(N)2` क्रियाविधि को समझाइये।
`S_(N)1` अभिक्रिया ...... तथा `S_(N) 2` अभिक्रिया ...." द्वारा संपन्न होती है।
यदि `vec(b) = hat(i)+3hat(j)-5hat(k)` तथा `veca=5 hat(i)+hat(j)-3hat(k)` तो (`veca-vecb`).(`veca+vecb`) का मान ज्ञात कीजिये।
यदि किसी स. श्रे. के n पदों का योगफल `S_(n)` हो तथा `S_(1)=6, S_(7)=105` हो, तो सिद्ध कीजिए कि <br> `S_(n):S_(n-3)=(n+3):(n-3)` .
यदि `S_(1),S_(2),S_(3),…,S_(n)` उन अनन्त गुणोत्तर श्रेणियों के योगफल है जिनके प्रथम पद क्रमशः 1, 2, 3, …, n तथा सार्वअनुपात क्रमशः `(1)/(2), (1)/(3), (1)/(4), …,(1)/(n+1)` है, तो सिद्ध कीजिए कि <br> `S_(1)+S_(2)+S_(3)+...+S_(n)=(1)/(2)n(n+3)`
यदि गु० श्रे० के `n, 2n, 3n` पदों का योग क्रमशः `S_(1), S_(2), S_(3)` हों तो सिद्ध करें की `S_(1)^(2)+S_(2)^(2)=S_(1) (S_(2)+S_(3))`.
यदि गुणोत्तर श्रेणी के n, 2n और 3n पदों के योगफल क्रमशः `S_(1), S_(2)` और `S_(3)` है, तो सिद्ध करो कि <br> `S_(1)(S_(3)-S_(2))=(S_(2)-S_(1))^(2)`
यदि `S _(n )` किसी समांतर श्रेणी के n पदों का योगफल हो, तो सिद्ध करो कि `S_(n+3)-3S_(n+2)+3S_(n+1)-S_(n)=0.`
यदि `S _(n )` किसी समांतर श्रेणी के n पदों का योगफल हो, तो सिद्ध करो कि `S_(n+3)-3S_(n+2)+3S_(n+1)-S_(n)=0.`
यदि समांतर श्रेणी के प्रथम n पदों का योगफल `S_(n)` से सूचित हो और यदि `S_(2n)=3S_(n)` तो `(S_(3n))/(S_(n))=`
यदि `S_(1)=Sigman,S_(2)=Sigman^(2),S_(3)=Sigman^(3)` तब `lim_(n to oo)(S_(1)(1+(S_(3))/(8)))/(S_(2)^(2))` का मान बराबर हैं
यदि `S_(n)=sum_(k=1)^(n)a_(k)` तथा `lim_(nto oo)a_(n)=a`, तब `lim_(nto oo)(S_(n+1)-S_(n))/(sqrt(sum_(k=1)^(n)k))` समान है
मान लीजिये `S_(1),S_(2)` वर्ग ऐसे हैं कि प्रत्येक `nge1` के लिये `S_(n)` की एक भुजा की लम्बाई `S_(n+1)` के एक विकर्ण की लम्बाई के बराबर है । यदि `S_(1)` की एक भुजा की लम्बाई 10 सेमी है , तो निम्न में से के मानों के लिये `S_(n)` का क्षेत्रफल 1 वर्ग सेमी से कम होगा -
किसी गुणोत्तर श्रेणी प्रथम पद a तथा सार्वअनुपात r है तथा `S_(n)`, इसके n पदों का योग है, तो सिध्द कीजिए कि- <br> (i) `S_(1)+S_(2)+...+S_(n)=(na)/(1-r)-(ar(1-r^(n)))/((1-r)^(2))` <br> (ii) `S_(1)+S_(3)+S_(5)+...+S_(2n-1)=(an)/(1-r)-(ar(1-r^(2n)))/((1-r)^(2).(1+r))`
यदि किसी समान्तर श्रेढ़ी का प्रथम 'a ' और प्रथम n पदों का योग `S _(n )` है, तो सिद्ध कीजिए कि इसका सार्वअंतर `d=S_(n)-2S_(n-1)+S_(n-2)` है।

FAQs on हैलोजन व्युत्पन्न

On The Basis Of No Of Hydroxyl Group

On The Basis Of Hybridisation Of Carbon

Nomenclature

Lucas Test

Dichromate Test

VICTOR MEYER'S TEST:

By The Hydrolysis Of Alkyl Halides With Aqueous Alkali Or Moist Silver Oxide

Hydration Of Alkene

OXYMERCURATION-DEMERCURATION METHOD:

OXYMERCURATION-DEMERCURATION MECHANISM

Home
Online Class
Doubt?
Download App
Ask Doubt