Ask Free Unlimited Question
Join the 2 Crores+ Student community now!

एक फोटॉनकी आवृति ज्ञात कीजिए जो एक इलेक्ट्रॉन के -3.4 eV ऊर्जा स्तर से `- 13.6 eV ऊर्जा स्तर में संक्रमण से उत्पन्न होता है |

Updated On: 4-6-2020

This browser does not support the video element.

Click here to get PDF DOWNLOAD for all questions and answers of this chapter - NAVBODH Class 12 PHYSICS

अणुगति सिद्धांत

अर्धचालक इलेक्ट्रॉनिकी-पदार्थ , युक्तियाँ तथा सरल परिपथ

उपग्रहों की गति

ऊष्मागतिकी

एकसमान वृत्तीय (वर्तुल) गति की गतिकी

कणों के निकाय की गति और घुर्णो गति

कार्य, ऊर्जा और शक्ति

गति के नियम

गतिमान आवेश और चुम्बकत्व

गुरुत्वाकर्षण

घर्षण

तरंगे

तरलो के यांत्रिक गुण

दोलन

द्रव्य के तापीय गुण

परिचय

प्रत्यास्थता [ ELASTICITY ]

मापन और मात्रक

संचार व्यवस्था

संदिश विश्लेषण

समतल में गति

सरल रेखा में गति

अर्धचालक इलेक्ट्रॉनिकी-पदार्थ, युक्तियाँ तथा सरल परिपथ

गतिमान आवेश और चुंबकत्व

गोलीय पृष्ठ से अपवर्तन

गोलीय पृष्ठ से अपवर्तन

चुंबकत्व एवं द्रव्य

चुंबकत्व और द्रव्य

तरंग प्रकाशिकी

तरलो के यांत्रिक गुण- II

नाभिक

परमाणु

परिचय

प्रकाश का परावर्तन

प्रकाशिक यंत्र

प्रत्यावर्ती धारा

प्रिज्म में अपवर्तन

मापन में त्रुटियाँ, सार्थक अंक एवं विमाएँ

विकिरण तथा द्रव्य की द्वैत प्रकृति

विघुत चुंबकीय तरंगें

विद्युत चुंबकीय तरंगें

विद्युत चुंबकीय प्रेरण

विद्युत धारा

विद्युतचुंबकीय प्रेरण

विधुत आवेश एवं क्षेत्र

विधुत धारा

वैधुत आवेश और क्षेत्र

संचार व्यवस्था

समतल पृष्ठ द्वारा अपवर्तन

स्थिर विद्युत विभव एवं धारिता

स्थिरवैद्युत विभव तथा धारिता


Answer

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

लिखित उत्तर

Open Answer in App

Solution

से, <br>

<br>

हर्ट्ज |

उस बड़े से बड़े गोले का आयतन ज्ञात कीजिए, जो उस घन में से काटा गया जिसकी एक भुजा की लम्बाई 4 सेमी है।
एक अनभिनत पासे को 5 बार उछाला जाता है एक समसंख्या प्राप्त करना एक सफलता है तो प्रायिकता ज्ञात कीजिए - अधिक से अधिक 4 सफलताओ के लिए
किसी कारखाने में बने एक बल्ब कि 150 दिनों के उपयोग के बाद फ्यूज होने कि प्रायिकता 0 .05 है प्रायिकता ज्ञात कीजिए कि इस प्रकार के 5 बल्बों में से - एक से अधिक
एक व्यक्ति के एक कदम आगे चलने की प्रायिकता 0.4 तथा एक कदम पीछे हटने की प्रायिकता 0.6 है। प्रायिकता ज्ञात कीजिए कि `5` कदम चलने के पश्चात, यह व्यक्ति प्रारम्भिक बिन्दु से एक कदम दूर है।
एक अनभिनत पास को 6 बार उछाला जाता है। यदि एक समसंख्या प्राप्त करना एक सफलता है , तो <br> अधिक - से - अधिक 5 सफलताओ की प्रायिकता ज्ञात कीजिए।
यदि `y=x^2 +4` तथा x का मान 3 से 3.1 परिवर्तित होता है तब अवकलज के प्रयोग से y में परिवर्तनका सन्निकटन मान ज्ञात कीजिए ।
निम्नलिखित स्थितियों में एक चर बिंदु का बिन्दुपथ ज्ञात कीजिए जिसकी <br> दोनों अक्षों से दूरियों का योग एक अचर राशिc है ।
निम्नलिखित स्थितियों में एक चर बिंदु का बिन्दुपथ ज्ञात कीजिए जिसकी <br>y- अक्ष से दूरी , उसकी मूलबिंदु से दूरी की आधी है ।
निमिन्लिखित बीजीय व्यंजकों में से कौन-सा एक बहुपद है ?
कॉलम - I में कुछ निश्चित स्थितियां दी गई है जिनमे प्रतिरोध का सीधा धात्विक तार प्रयुक्त किया है तथा कॉलम - II में कुछ परिणामी प्रभाव दिए है कॉलम - I के कथनो को कॉलम - II के कथनो से सुलमित कीजिए <br> `{:(,"कॉलम - I",," कॉलम - II"),((A),"एक आवेशित संधारित्र को तार के सिरों से जोड़ा गया है",(p)," एक नियत धारा तार में से प्रवाहित होती है"),((B),"तार को इसकी लम्बाई के लम्बवत नियत वेग से एक समान चुम्बकीय क्षेत्र में गतिमान किया जाता है चुम्बकीय क्षेत्र गति के तल के लम्बवत है",(q),"उष्मीय ऊर्जा तार में उत्पन्न होती है"),((C),"तार को नियत विधुत क्षेत्र में रखा जाता है जिसकी दिशा तार की लम्बाई के अनुदिश है",(r),"तार के सिरों पर एक नियत विभवान्तर उत्पन्न होता है"),((D),"तार के सिरों पर एक नियत वि. वा. बल. की बैट्री जोड़ी जाती है",(s),"तार के सिरों का नियत परिमाण का आवेश उपस्थित होता है"):}`
एक रेखा x- अक्ष से `120^@` तथा y-अक्ष से `60^@` का कोण बनाती है, तो रेखा द्वारा z-अक्ष से बना कोण ज्ञात कीजिए।
उस सरल रेखा का समीकरण ज्ञात कीजिए जो बिन्दु (3,-4) से होकर जाती है और अक्षों से बराबर परन्तु विपरीत चिन्हो के अन्तः खण्ड काटती है ।
उन दो सरल रेखाओं के समीकरण ज्ञात कीजिए जो बिन्दु (0,a) से होकर जाती है तथा जिन पर बिन्दु (2a,2a) से खींचे गए लम्बो की माप a है।
एक बिंदु इस प्रकार गमन करता है कि उसकी बिंदु `(3, 4) ` से दुरी बिंदु `(-3, -4)` से उसकी दूरी की तिगुनी रहती है । उसका बिन्दुपथ ज्ञात कीजिए ।
उन रेखाओं के मध्य कोण ज्ञात कीजिए जिसमें एक दिक् - अनुपात 2, 1, 2 है और रेखा बिंदुओं (1, 4, 3) तथा (2, 12, 7) से जाती है ।

FAQs on परमाणु

सिद्धांत

एटीओएम की नियमितता

सिद्धांत

ORBIT की त्रिज्या

NTH ORBIT में इलेक्ट्रान की वेलकमिटी

इलेक्ट्रानिक की मूल स्वतंत्रता

NTH ORBIT में इलेक्ट्रॉन का ऊर्जा

स्वीकृत माल की स्वतंत्रता

बोहेन मॉडल को प्राकृतिक रासायनिक ऊर्जा के स्तर से निकाल दिया जाता है

हाइड्रोजेन लिफ्टों की तरह

Home
Online Class
Doubt?
Download App
Ask Doubt